Abhivyakt

देवरानी-जेठानी का.. पल्लू! ...और मैगी!!

देवरानी-जेठानी का.. पल्लू! ...और मैगी!!
विसंगत किरदारों की अनर्गल कहानी से प्रत्यारोपित होने वालीअनिष्टकारी सोच से आगाह करने की कोशिश करता है अभिव्यक्त का ये संस्करण.

Devrani Jethani ja Pallu Aur Maggi

सास, बहु और... ज़हर!

सास, बहु... और ज़हर!
एक सास की हत्या करने की योजना बनाने वाली बहु की कहानी पढ़ी, और कहानीकार की मंशा देखकर सिर पीटने का मन किया. तो एक मूर्खतापूर्ण कहानी प्रेरणा है इस लेख की. व्यंग्य है, या कटाक्ष, या यथार्थ की व्यथा कहता दर्पण है, आप स्वयं निर्धारित करें

saas, bahu aur zahar

हमारे देशवासी, “हम" देशवासी

हमारे देशवासी, “हम" देशवासी
कल मेरा मन बहुत दु:खा... जहां केवल नापसंदगी, केवल असहमति काफी है, वहां घृणा के, ऐसी बेमतलब, बेवजह नफरत के बीज क्यों बोते हैं?
शर्म आ रही है, कि "हम" ऐसे हैं...

Barren Branches

कुछ अटपटे सवाल, कुछ चटपटे जवाब | जयोम के मुख से | विविध - संकलन

और हम हुए लाजवाब अनोखे से जवाब होते हैं. कभी हैरान होते हैं, कभी हंसते हैं, और कभी दोनों. जयोम और जयोम की बातें...

Stylish Janush

करवाई हंसी की बौछार | जयोम के मुख से | विविध - संकलन

हा हा हा ये छोटा सा विदूषक हंसाने में बड़ा माहिर होता जा रहा है. बस, कभी कभी खुद समझ नहीं पाता, कि हम इतनी ज़ोर से क्यों हंस रहे हैं.

Jayom ne karvai hansi ki bauchar

मेरा प्यारा नन्हा सुधारक | जयोम के मुख से | विविध - संकलन

ज़रा गलती कर के तो देखो... कहां हम सोचते थे, कि जयोम की गलतियां सुधारकर उसे अच्छा बोलना सिखाएंगे, यहां तो जनाब दो साल के हुए हैं नहीं और अभी से हमारी गलतियां सुधार रहे हैं

ऐसे गलत बात होती है...

मुझे नींद न आए | जयोम के मुख से | विविध - संकलन

जब आए तो चलो नींद को भगाएं न सोने के और नींद भगाने के ढेर उपाय हैं जयोम के पास. नींद चाहे अपने सारे हथियार अपना ले, जयोम की आखों में नींद भरी होती है, उबासियां भी आतीं हैं,
पर उसके पास तरीके भी शानदार हैं से दुश्मन से निपटने के.

सोच रहा है, और क्या करुं नींद भगाने के लिए

चीज़ों से बतियां | जयोम के मुख से

जानता नहीं कि जान नहीं बेजान चीज़ें कहां सुनेंगीं जयोम की बातें, पर वो फिर भी उनसे बातें करता है.

नटखट जयोम

जयोम मेरा प्यारा रट्टू तोता | जयोम के मुख से | विविध - संकलन

बिना समझे ही बोले चट पट मेरे नटखट जयोम ने रट्टा लगाया, और सही समय पर (कभी कभी गलत भी) सबको सुनाया

रट्टू तोता - जयोम

Pages

Subscribe to Abhivyakt